Thursday, October 29, 2020

साउथ चाइना सी को लेकर ऑस्ट्रेलिया-चीन में ठनी

भारत और अमेरिका से अपने बिगड़ते रिश्तों से परेशान चीन के लिए अब ऑस्ट्रेलिया नई दिक्कतें पैदा करने में लगा हुआ है। साउथ चाइना सी को लेकर दोनों देशों के बीच विवाद अब काफी गहराता जा रहा है।

नई दिल्‍ली: भारत और अमेरिका से अपने बिगड़ते रिश्तों से परेशान चीन के लिए अब ऑस्ट्रेलिया नई दिक्कतें पैदा करने में लगा हुआ है। साउथ चाइना सी को लेकर दोनों देशों के बीच विवाद अब काफी गहराता जा रहा है। इस विवाद में ऑस्ट्रेलिया किसी भी हाल में चीन के सामने झुकने को तैयार नहीं है।

चीन और ऑस्ट्रेलिया के बीच ये सब कुछ उस वक्त में हो रहा है, जब चीन पहले से ही भारत और अमेरिका से भी उलझा हुआ है। पूर्वी लद्दाख में भारत के साथ चीन का सीमा विवाद भी गहराया हुआ है तो दूसरी तरफ अमेरिका से भी चीन के रिश्ते दिनों-दिन बगड़ते जा रहे हैं। ऐसे में ऑस्ट्रेलिया से दुश्मनी चीन के लिए बहुत खतरनाक साबित होने वाली है। साउथ चाइना सी को लेकर ऑस्ट्रेलिया चीन के खिलाफ यूएन तक चला गया और यूएन में घोषणा पत्र दायर करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने साफ कर दिया कि चीन साउथ चाइना सी पर जो कुछ भी दावा कर रहा है, वो सही नहीं है।

साउथ चाइना सी पर ऑस्ट्रेलिया ने क्या कहा ?

  • साउथ चाइना सी के स्पार्टली द्वीप पर चीन का दावा गैर-कानूनी है
  • पार्सल द्वीप पर भी चीन का दावा सही नहीं है
  • चीन का दावा समुद्री सीमा के लिए तय UN के घोषणा पत्र के उलट है

इन सारी बातों के बीच आर्थिक मोर्चे पर भी चीन हर तरफ से मुंह की खा रहा है। पहले भारत से रिश्ते बिगड़े तो चीन को घाटा सहना पड़ा है। वहीं साउथ चाइना सी को लेकर ऑस्ट्रेलिया से जैसे ही चीन के रिश्ते बिगड़ने लगे तो वहां से भी बिजनेस पर प्रतिबंध लग गए हैं। अमेरिका भी लगातार चीन के खिलाफ बोल रहा है। खासकर कोरोना वायरस के पूरी दुनिया में फैलने के बाद अमेरिका ने खुलकर चीन को खरी खोटी सुनाई और कहा कि कोरोना वायरस को पूरी दुनिया में बांटने के लिए सिर्फ और सिर्फ चीन ही जिम्मेदार है।

अमेरिका से चीन के रिश्ते तेजी से बिगड़ते देख ऑस्ट्रेलिया ने अपने सैन्य खर्चे में बढ़ोत्तरी की बात भी कही है। उसने कहा कि इंडो-पैसिफ़िक क्षेत्र में अमरीका और चीन में बढ़ते तनाव के बीच ऑस्ट्रेलिया अपने सैन्य ख़र्च में बड़ी बढ़ोत्तरी करेगा।

चीन के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया की तैयारी

  • ऑस्ट्रेलिया अगले 10 साल में सेना का बजट बढ़ाएगा
  • सेना का बजट बढ़ाकर 270 अरब ऑस्ट्रेलियन डॉलर करेगा
  • कुल रक्षा बजट में ये 40 फ़ीसदी की बढोत्तरी है

इन बातों के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने कई क्षेत्रों का जिक्र किया, जिसमें भारत और चीन के बीच सीमा विवाद, दक्षिणी चीन सागर और पूर्वी चीन सागर भी शामिल है। ये सारी वो बातें हैं जिसे लेकर चीन लगातार कई देशों के साथ उलझता रहा है। चीन के खिलाफ भारत की नज़र भी लगातार बनी हुई है। भारत हर तरह से सिर्फ बातचीत के आधार पर चीन से रिश्तों को ठीक करने की कोशिश कर रहा है, लेकिन चीन की हरकतों से सब कुछ बातचीत से हल होता दिख नहीं रहा है।

अब चीन चारों तरफ से घिरा हुआ है। अमेरिका से लेकर ऑस्ट्रेलिया और फिर भारत से उसका विवाद दिनों-दिन गहरा रहा है। ऐसे में चीन के लिए आने वाले दिन मुश्किल भरे हो सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सोनू सूद 39 बच्चों का कराएंगे लीवर ट्रांसप्लांट, सर्जरी के लिए फिलीपींस से दिल्ली लाए जाएंगे मासूम

सोनू सूद कई सारे नेक कामों के बाद अब एक और बड़ा काम करने जा रहे हैं। एक्टर फिलीपींस से 39 बच्चों को लिवर...

Atmnirbhar Bharat: बीएसएफ के हथियारों को मिलेगी ताकत, गोला-बारूद की पहली खेप भेजी

नई दिल्ली: रक्षा के क्षेत्र में शुरू हुआ आत्मनिर्भर अभियान अब जोर पकड़ता जा रहा है। विदेशी हथियारों की लिस्ट बनाकर आयात...

फेसबुक की बड़ी कारवाई, इंस्टाग्राम के यौन गतिविधियों से जुड़ी विषयों पर लगाया रोक

नई दिल्ली:फेसबुक ने साल की दूसरी तिमाही में इंस्टाग्राम से हिंसा मूलक सामग्री और चित्रों सहित वयस्क नग्नता और यौन गतिविधि से...

फोर्ब्स की हाईएस्ट एक्टर्स की लिस्ट में शामिल होने वाले इकलौते स्टार बनें अक्षय कुमार, इतनी है कमाई

मुंबई। फोर्ब्स की वर्ल्ड हाईएस्ट पेड-10 सेलेब्रिटीज की लिस्ट आउट हो चुकी है। इस बार इस लिस्ट में इकलौते बॉलीवुड एक्टर अक्षय...